Indian Society

porn movie in india is legal?

In Indian Law, three acts mainly cover the subject of pornography.

1.   Information Technology(IT) Act, 2000

2.   India Penal Code(IPC),

3.   Protection of Children from Sexual Offences (POCSO) Act, 2012.

Watching porn privately is not ILLEGAL:

In India, it is not illegal to watch pornographic content in your private rooms or space.

Holi is one of the most important and colourful festivals

Holi is one of the most important and colourful festivals. Holi is associated with the concept that on this day, people embrace their adversaries by dousing them in colour and beginning a fresh connection with them. It is, without a doubt, a very lovely and vibrant festival.

The celebration commemorates the triumph of good over evil. The festival begins with the Holika Dahan, which is followed by the main event, in which people play with colours. This year’s Holi will be extra memorable because the Covid-19 pandemic is slowly fading, which corresponds to the festival’s meaning.

मुलायम सिंह यादव सियासत में चरखा दांव का महारथी

आजाद भारत में उत्तर प्रदेश की राजनीति ने जिस मोड़ से अपना रास्ता बदला मुलायम सिंह यादव हमें वही खड़े दिखाई देते हैं। व पिछड़े वर्गों की आकांक्षाओं के प्रतीक बने, साथ ही मुलायम सिंह की राजनीति का एक ऐसा समीकरण रखने का श्रेय भी जाता है जिसके आगे पुराने सारे समीकरण फीके पड़ गए। इनमें चाहे जनता पार्टी को तोड़ना हो या सरकार बनाने के लिए बहुजन समाज पार्टी को साथ जोड़ना हो। अखाड़े की मिट्टी में बढ़े हुए मुलायम सिंह ने अपने पसंदीदा चरखा दाव का राजनीति में भी खूब इस्तेमाल किया।

पहले शिक्षक बने फिर राजनीति में उतरे

इंदिरा गांधी लिटिल गर्ल से देवी दुर्गा तक

इंदिरा की कहानी इलाहाबाद के आनंद भवन में पैदा हुई एक ऐसी लड़की के बारे में है, जिसने लोकप्रियता और लोकतंत्र दोनों को एक साथ साधा और तमाम महारथियों को धूल चटा दी हुई देश की राजनीति के शिखर पर पहुंची। भारतीय राजनीति में एक समय था जब राम मनोहर लोहिया ने उन्हें गूंगी गुड़िया कहा था और मुरारजी देसाई उन्हें लिटिल गर्ल मान रहे थे कॉमन अगर देश में इंदिरा की ऐसी लहर उठी कि सब के कयास और कथित अनुभवी आकलन तिनके की तरह बह गए। जन संघ के नेता अटल बिहारी बाजपेई ने उन्हें दुर्गा कह कर सम्मानित किया।

जवाहरलाल नेहरू आधुनिक भारत के वास्तुकार

पंडित जवाहरलाल नेहरू को जो भारत मिला कोमा उसकी जटिलताओं को देखते हुए दुनिया के तमाम विशेषज्ञ यह कह रहे थे कि मुल्क एक नहीं रह पाएगा। मगर नेहरू ने न केवल देश को एकजुट रखा बल्कि उसे अपने पैरों पर खड़ा भी किया। उन्होंने उस गुटनिरपेक्ष आंदोलन की नींव रखी, जिसने शीत युद्ध में फंसी दुनिया को एक नई राजनीति दी पुलिस टॉप विशेषज्ञ कहते हैं कि अगर नेहरु चाहते तो अपनी लोकप्रियता के चलते तानाशाह भी बन सकते थे कोमा लेकिन उन्होंने लोकतंत्र का लंबा रास्ता चुना।

पंडित नेहरू का सफरनामा

Happy Independence Day 2020

Independence Day is celebrated annually on 15 August as a national holiday in India commemorating the nation's independence from the United Kingdom on 15 August 1947, the day when the provisions of the Indian Independence Act 1947, which transferred legislative sovereignty to the Indian Constituent Assembly, came into effect. India retained King George VI as head of state until its transition to a full republic, and the Constitution of India 1950 replaced the dominion prefix, Dominion of India, with the enactment of the sovereign law Constitution of India.

सांप्रदायिक हिंसा बिल आज संसद में!

नरेंद्र मोदी के जोरदार विरोध के बाद सरकार ने बिल के कुछ प्रावधानों में बदलावों को स्वीकार किया है। अब इसे कम्युनिटी न्यूट्रल बनाया गया है...

विशेष संवाददाता, नई दिल्ली  17 Dec 2013, 02:40:00 PM IST

Is QNET a scam?

It is easy to question the legitimacy of any company. Just listen to a few people, and you can believe that the company is a scam. But what makes a company legit? And what makes it a scam? These are some questions we need to ask ourselves before questioning the legitimacy of any company. The factors that determine if the company is genuine are the products it deals in, its compensation plan, its refund policy, training programmes it provides to the distributors, and many more.

1. Proper policies and procedures, as well as ethical marketing code

Women Entrepreneurs

When it comes to an entrepreneurs. One picture comes into our mind and that is a handsome looking person male, well of course our country graced with a parade of real male entrepreneurs. But there are some fantastic and sharp minded females too. The progress of the country is possible by women. Many women have contributed a lot in our Indian history. The women of our country have tried a lot for the progress of the country. We are giving below quotes of some women who have brought the progress of the country from where to where.

Subscribe to Indian Society